KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

अब होगा दंगल-दूजराम साहू

1 218

अब होगा दंगल,
गाँव-गाँव, गली-गली !!
बजेगा बिगुल चुनाव की,
गाँव- गाँव, गली-गली !!

लोकतंत्र की महापर्व में,
काफिले खूब चलेंगे!
न दिखेगा अबीर का रंग,
चुनावी रंग चढ़ेंगे !!
लुभावने, छलावे की,
मंत्रोच्चार होगी गली-गली !

पांव पकड़ेंगे दीन का भी
याचक बन वोट मांगेंगे !
लंबी-चौड़ी अस्वासन होगी
वादे खूब गिनायेंगे !!
सच्चाई नहीं सुई नोंक बराबर
परख लेना भली -भली !

खुल गई पिटारे
आलसी और कामचोरों की!
कीमत वसूली चलेगी
मांग होगी जोरों की!!
लंबी-लंबी बोली होगी
लिस्ट होगी बड़ी-बड़ी !

दूजराम साहू
निवास-भरदाकला
तहसील-खैरागढ़ जिला
राजनांदगांव (छ ग)
??????

Show Comments (1)