उतार दे गोली उस दरिंदे के सीने पर- राजकुमार मसखरे

*प्रश्न….?*

???
हे ! द्रोपदी
अब कृष्ण नही आएंगे
अपनी लाज बचाने
स्वयं सुदर्शन चलाना होगा !
हे सीते !
अब राम नही आएंगे
अपहरण के बदले
स्वयं को धनुष चलाना होगा !
हे ! निर्भया, हे प्रियंका…
ये सरकार पर…
ये न्यायालय पर
ये पत्रकार पर…
भरोसा मत कर.
अब ‘बैंडिट क्वीन’ बन
फैसले अपने हाथ में ले
उतार दे गोली उस दरिंदे के सीने पर
बीच चौराहे पर !!!!!!!!!!?????????

—- राजकुमार मसखरे
(Visited 1 times, 1 visits today)