KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

धारा 370,35-A

53
*धारा 370,35-A*
××××××××××××××
जन्नत ल जहन्नूम होय बर
अगर बचाना हे…,
त अनुच्छेद  370,35-A ल
जरूर हटाना हे…!
ये धारा जब तक
इँहा काश्मीर ले नइ हटही,
तब तक जान लव
ये स्वर्ग ह बारूद म पटही!
विशेष अधिकार मिले ले
फोकट अउ सस्ता में
खाय बर मिलत हे,
त कइसे नइ पनकही
ये पत्थर बाज मन
जेन घाटी म पलत हे !
जेन सरकार आथे
येला हटाय खातिर
खूबेच के चिल्लाथे ,
फेर का करबे जी
ये मिठलबरा बर
कुर्सी ह आड़े आथे !
अपन बर समझौता झन करव
देश रक्षा बर तुम लड़ मरव ,
ये लाहौर म तिरंगा फहरा के
महतारी चरन म माथ धरव !

    — *राजकुमार मसखरे*
 जय हिन्दजय भारत