पुस्तक

प्रदीप कुमार दाश “दीपक”

हाइकु : पुस्तक
——–●——-

01}
ज्ञान के पाठ
पुस्तकें सहायिका
खुलें कपाट ।

02}
अच्छी किताब
दूर हुआ अंधेरा 
मिला प्रकाश ।

03}
पुस्तक पास
ज्ञानी हमसफ़र 
मिलता साथ ।

04}  
पुस्तक पन्ने
सन्निहित प्रकाश 
उजली राहें ।
   
05}
किताबें कैद
दीमकों की मौज
भरते पेट ।

06}
सिन्धु किताब
आओ गोता लगाएँ
ज्ञान अथाह ।

□ प्रदीप कुमार दाश “दीपक”

(Visited 7 times, 1 visits today)