मोहन सबका प्यारा था(mohan sabka pyara tha)

मोहन सबका प्यारा था

~~~~~~~~~~~~
              (1)
पुतलीबाई ने जन्म दिया ,
करमचंद ने पाला था ।
सीधा-साधा,भोला-भाला,
मोहन सबका प्यारा था।
            (2)
बिन हथियार लड़े थे ओ,
सत्य अहिंसा के पुजारी ।
सरल स्वाभाव के धनी ओ,
जिसे  दुनिया माने सारी।।
            (3)
सच्चाई को जिसने चुना,
प्रेम को जो अपनाया। 
छूआछूत को दूर करके,
मिलकर रहना सिखाया।।
            (4)
खादी वस्त्र पहनकर जिसने,
स्वच्छ जीवन बिताया ।
स्वदेशी अपनाओ कहकर,
विदेशी वस्त्र जलाया।।
             (5)
सत्य मार्ग पर चलना,
बापू ने हमे सिखाया।
अमर हुआ नाम जिनका,
राष्टपिता कहलाया ।।
===============

रचनाकार – डीजेन्द्र कुर्रे “कोहिनूर”
मिडिल स्कूल पुरुषोत्तमपुर,बसना
जिला महासमुंद (छ.ग.)
मो. 8120587822

(Visited 5 times, 1 visits today)

डिजेन्द्र कुर्रे कोहिनूर

नाम -- डिजेन्द्र कुर्रे "कोहिनूर" पिता -- श्री गणेश राम कुर्रे माता -- श्रीमती फुलेश्वरी कुर्रे शिक्षा -- बीएससी(बायो)एम .ए.हिंदी ,संस्कृत, समाजशास्त्र ,B.Ed ,कंप्यूटर पीजीडीसीए व्यवसाय -- शिक्षक जन्मतिथि -- 5 सितंबर 1984 प्रकाशित रचनाएं -- बापू कल आज और कल(साझा संग्रह),चाँद के पार साइंस वाणी पत्रिका, छ ग जनादेश अखबार, छ ग शब्द आदि कई पत्र पत्रिकाओं में प्रकाशित। सम्मान -- 1. राष्ट्रीय कवि चौपाल कोटा राजस्थान प्रथम द्वितीय तृतीय 2019। 2. श्रेष्ठ सृजन रचनाकार का सम्मान। 3. बिलासा साहित्य सम्मान । 4. कला कौशल साहित्य सम्मान। 5. विचार सृजन सम्मान 2019। 6. अंबेडकर शिक्षा क्रांति अवार्ड। 7. छत्तीसगढ़ गौरव अलंकरण अवार्ड 2019 8. मुख्यमंत्री गौरव अलंकरण अवार्ड 2019 पता -- ग्राम पीपरभावना, पोस्ट- धनगांव,तहसील-बिलाईगढ़, जिला- बलौदाबाजार ,छत्तीसगढ़ पिन - 493559 मोबाइल नंबर - 8120587822