KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

यह सब जो कहते हैं ,बिल्कुल सही कहते हैं(ye sab jo kahte hai,bilkul sahi kahte hai)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

#poetryinhindi,#hindikavita, #hindipoem, #kavitabahar # unity

वह कहते हैं हमें ,हम को एक होना है।
अपने विचारों से कर्मों से नेक होना है।
जातीयता और क्षेत्रीयता से ऊपर उठना है।
आतंक और नक्सल के खिलाफ जीतना है।
हर संकट की घड़ी में , हौसला रखना है।
गुलामों की जंजीरों में ,न सोना है ।
अमीरी गरीबी की खाई को भरना है।
हाथ से हाथ मिला कर विकास करना है ।
जन जन की अशिक्षा को दूर करना है ।
हम हर भारतवासी को स्वस्थ रहना है ।
गांव कस्बे तक बिजली पहुंचानी है ।
हर प्यासों की प्यास बुझानी है ।
यह सब जो कहते हैं ,बिल्कुल सही कहते हैं।

मनीभाई ‘नवरत्न’, छत्तीसगढ़