शहीद हो गई




वो सैनिक
हो गया शहीद
सीमा पर अपना
कर्तव्य निभाते-निभाते
सिर्फ वही
शहीद नहीं हुआ
शहीद हो गई
सदा के लिए
एक घर की खुशियाँ
शहीद हो गया
दूधमुंहे नवजातों के
सिर का साया
शहीद हो गई
बूढ़े मां-बाप की
बुढा़पे की लाठी
शहीद हो गई
उन राजनेताओं की
शर्मो-लाज
जो शहीद की
अंतेष्ठी में भी
साध रहे हैं वोट-बैंक
-विनोद सिल्ला©
(Visited 4 times, 1 visits today)