KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

Register/पंजीयन करें

Login/लॉग इन करें

User Profile/प्रोफाइल देखें

Join Competition/प्रतियोगिता में हिस्सा लें

Publish Your Poems/रचना प्रकाशित करें

User Profile

सरकारी योग दिवस -vinod silla

0 450

सरकारी योग दिवस

आज है योग दिवस
नहीं-नहीं
सरकारी योग दिवस 
आज के आयोजन में
प्रशासन था
भीड़ जुटाने के लिए
शीर्षासन में
जो समस्त कर्मचारी
व अधिकारियों को लाया
लगभग अपहरण करके 
सत्‍तासीन थे
सुखासन में
अनपढ़ या कम पढों की
खिदमत में थे 
उच्‍चाधिकारी
अंधे ने 
अपने-अपनों को
बांटी रेवडियाँ
यूँ मना योग दिवस.

vinod silla 

-विनोद सिल्‍ला©

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.