KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

नज़्म – मुझे समझा रही थी वो

बहुत मासूम लहजे में, बड़े नाज़ुक तरीके सेमेरे गालों पे रखके हाथ समझाया था उसने येसुनो इक बात मानोगे,अगर मुझसे है तुमको प्यार,तो इक एहसान कर देनाजो मुश्किल…

चन्द्रभान ‘चंदन’ के द्वारा सजाये गये बेहतरीन शेरों का मज़ा लीजिये….

बेहतरीन शेरों का मज़ाइरादा क़त्ल का हो और आँखों में मुहब्बत हो,भला इस मौत से चन्दन कोई कैसे मुकर जाए..कभी लगता था बिन तेरे मुक़म्मल दिन नहीं होगा,…

चंदन के ग़ज़ल (chandan ke gazal)

यहाँ पर चंद्रभान पटेल चंदन के ग़ज़ल (Chandan Ke Gazal) के बारे में पढेंगे यदि आपको अच्छी लगी हो तो शेयर जरुर करेंचंदन के ग़ज़ल मैं दरिया के बीच कहीं डूबा…