KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

पांच दिवसीय पर्व दीपावली – डी कुमार अजस्र

पांच दिवसीय पर्व दीपावली रचनाकार डी कुमार द्वारा स्वरचित रचना दीपावली के पाँच दिवसों का समग्र समायोजन करते हुए रचित की गई है

प्रति दिवस दीपावली- डी कुमार -अजस्र

प्रस्तुत रचना //प्रति- दिवस दीपावली //डी कुमार --अजस्र द्वारा स्वरचित है जिसमें एक दिवस दीपावली की जगमग और खुशहाली को प्रति दिवस खुशहाली और जगमग में परिवर्तन का…

बैल दीवाली -डी कुमार अजस्र (दुर्गेश मेघवाल ,बूंदी /राजस्थान ) विधा -कविता/ पद्य

'बैल दिवाली ' रचना डी कुमार--अजस्र द्वारा बैल (OX)दिवाली ,गोवर्धन पूजा अन्नकूट महोत्सव के संदर्भ में स्वरचित रचना है

एक दीप जलाएं उनके नाम -डी कुमार अजस्र

कविता 'एक दीप जलाएं उनके नाम, के द्वारा रचयिता डी कुमार-अजस्र द्वारा दीपावली पर आमजन से वीर सैनिकों और देश के लिए हुए शहीदों के प्रति कृतज्ञता प्रदर्शित करते…

सर्व शक्ति का रूप है नारी /रचयिता:-डी कुमार–अजस्र

विधा:- पद्य/कविता विषय:-स्त्री शक्ति की प्रतिमूर्ति रचना शीर्षक:- *सर्वशक्ति का रूप है नारी* रचनाकार नाम :- *डी कुमार--अजस्र(दुर्गेश मेघवाल,बून्दी/राज.)*…

मेरे गिरधर, मेरे कन्हाई जी / रचयिता:-डी कुमार–अजस्र

प्रस्तुत गीत या गेय कविता/भजन ---- मेरे गिरधर, मेरे कन्हाई जी ---डी कुमार--अजस्र द्वारा स्वरचित गीत या भजन के रूप में सृजित है ।

डरे कोरोना भागे- डी कुमार –अजस्र

प्रस्तुत हिंदी स्वरचित गीत या गेय कविता --डरे कोरोना... भागे ... डी कुमार--अजस्र द्वारा भारत देश मे 100करोड़ लोगों के कोरोना टीका लगने के उपलक्ष्य में मनाए गए…

एक कदम चल -डी कुमार अजस्र(अमात्रिक काव्य)

हिंदी काव्य में नवीन विधि और प्रयोग के रूप में सृजित स्वरचित प्रेरणादायक अमात्रिक काव्य रचना --एक कदम चल...

जय करवा मइया…..

प्रस्तुत हिंदी गीत जय करवा मइया डी कुमार-- अजस्र (दुर्गेश मेघवाल बूंदी राजस्थान) द्वारा करवा चौथ पर्व पर विशेष प्रस्तुति के रूप में स्वरचित गीत है ।