KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

चेतावनी -हरिवंशराय बच्चन’

0 46

चेतावनी -हरिवंशराय बच्चन’


जगो कि तुम हजार साल सो चुके,
जगो कि तुम हजार साल खो चुके,
जहान बस सजग-सचेत आज तो
तुम्हीं रहो पड़े हुए न आज बेखबर!


उठो चुनौतियाँ मिली, जवाब दो,
कदीम कौम-नस्ल का हिसाब दो,

उठो स्वराज के लिए खिराज दो,
उठो स्वदेश के लिए कसो कमर!


बढ़ो गनीम सामने खड़ा हुआ,
बढ़ो निशान जंग का गढ़ा हुआ,
सुयश मिला कभी नहीं पड़ा हुआ,
मिटो, मगर लगे न दाग देश पर!

-हरिवंशराय बच्चन’

Leave a comment