KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

देखो इनकी औकात

0 64

देखो इनकी औकात

हनुमान जी की जात पर
खूब हो रहा रोज बवाल !
नेता अपने मतलब लिये
उगल रहे हैं कई सवाल !

जी कोई कहता है दलित
तो कोई कहता आदिवासी!
कोई बताते हैं इन्हें ब्राम्हण
कोई अल्पसंख्यक,रहवासी!

भगवान तो भगवान होता है
भला भगवान का क्या जात !
ये हैं बस अपनी  रोटी सेंकने
नित करे सियासत की बात !

पौराणिक गाथाओं को ये
ऐतिहासिक बता,करे घात !
खुद की जात तो पता नही
देखो इनकी कैसी औकात !

— *राजकुमार मसखरे*
         23 .12.2018
               भदेरा

Leave a comment