KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

फ़र्रूख़ाबाद हमारा है

फ़र्रूख़ाबाद हमारा है

ऐतिहासिक भूमि है,
हमें प्राणों प्यारा है।
वीरों को जन्म देने वाला,
फ़र्रूख़ाबाद हमारा है।

साहित्य के क्षेत्र में,
यहां की महादेवी जी सितारा हैं।
छायावाद का सहयोगी,
फ़र्रूख़ाबाद हमारा है।

चीन, आस्ट्रेलिया और श्रीलंका ने,
यह जनपद निहारा है।
बौद्ध धर्म का तीर्थस्थल,
फ़र्रूख़ाबाद हमारा है।

फ़र्रूख़ाबाद को मिला,
तीन नदियों का सहारा है।
महाभारत कालीन,
फ़र्रूख़ाबाद हमारा है ‌।

कवि विशाल श्रीवास्तव
जलालपुर फ़र्रूख़ाबाद