KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

हे गणपति सुनले विनती -गणेश वंदना गीत

0 188

हे गणपति सुनले विनती

हे गणपति, सुनले विनती ।
यह पुकार है मेरे दिल की ।।
मांगे जो भी ,वो मिल जाती ।
महिमा तेरी,  यह जहां गाती।

आप हो प्रथम पूज्य देव।
उमा माता ,पिता महादेव ।
मूषक तेरी वाहन है ।
लीला तेरी मनभावन है।

हे गजानन ,भक्ति तेरी जिंदगी संवारती।हे गणपति, सुनले विनती…


मोदक आपको खूब भाये।
तेरी आरती संग हैं लाए ।
सुनले मेरी प्रार्थना
वंदना तेरी दिल से गाये।

तेरे नाम की दीया रगों में हरपल सुलगती ।
हे गणपति, सुनले विनती…..

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.