14 सितम्बर हिन्‍दी दिवस: हिंदी मेरी भाषा -रूपेश कुमार

14 सितम्बर हिन्‍दी दिवस

हिंदी मेरी मातृभाषा ,

हिंदी मेरी जान !

 

हिंदी के हम कर्मयोगी ,

हिंदी मेरी पहचान ,

हिंदी मेरी जन्मभूमि ,

हिंदी हमारी मान ,

हम हिंदी कि सेवा करते है ,

हम जान उसी पे लुटाते है !

 

हिंदी हमारी मातृभाषा ,

हिंदी हमारी जान !

 

है वतन हम हिंदुस्तान के ,

भारत मेरी शान ,

हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा ,

हिंदी हमारी एकता ,

हिंदी में हम बस्ते है ,

हिंदी मेरी माता !

 

हिंदी है हमारी मातृभाषा ,

हिंदी मेरी जान !

 

हिंदी मेरी वाणी ,

हिंदी मेरा गीत , ग़ज़ल ,

हिंदी के हम राही ,

हिंदी के हम सूत्र-धार ,

हिंदी मेरी विश्व गुरु ,

हिंदी मेरी धरती माता !

 

हिंदी है हमारी मातृभाषा ,

हिंदी मेरी जान !

-रूपेश कुमार

(Visited 17 times, 1 visits today)

रुपेश कुमार

मेरा संक्षिप्त परिचय ~ रुपेश कुमार पिता - श्री भीष्म प्रसाद माता - बिंदा देवी जन्म - 10/05/1991(चैनपुर) शिक्षा - स्नाकोतर भौतिकी,बी.एड(फिजिकल सांइस),ए.डी.सी.ए(कम्प्यूटर),इसाई धर्म(डिप्लोमा) वर्तमान - प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी ! प्रकाशित पुस्तक ~           दो पुस्तक "मेरी कलम रो रही हैं", "मेरी अभिलाषा"(काव्य संग्रह)एवं आठ साझा संग्रह, एक अंग्रेजी मे ! विभिन्न राष्ट्रीय पत्र-पत्रिकाओं मे सैकड़ों से अधिक कविता,कहानी, गजल ,लेख प्रकाशित ! राष्ट्रीय साहित्यिक संस्थानों से दो सौ से अधिक सम्मान प्राप्त यथा ~  "भारती ज्योति"(राष्ट्रीय राजभाषा पीठ, प्रयागराज),"साहित्य अभ्युदय सम्मान"(साहित्य संगम संस्थान, इंदौर),"फणीश्वरनाथ रेणू आंचलिक साहित्य सम्मान"(राष्ट्रीय आंचलिक साहित्य संस्थान, हरियाणा) "साहित्य साधक सम्मान"(ऑल इंडिया हिंदी उर्दू एकता ट्रस्ट(रजिं),गाज़ियाबाद),"जन-चेतना अक्षर सम्मान"(विश्व जन-चेतना ट्रस्ट भारत, बीसलपुर),"मातृत्व ममता सम्मान"(काव्यरंगोली साहित्यिक संस्था लखीमपुर, लखनऊ), "लीटरेरी कर्नल"(स्टोरी मिरर इंडिया, मुंबई) "केसरी सिंह बारहठ सम्मान-2019"(राजल वेल-फेयर एंड डवलपमेंट संस्थान, जोधपुर),"भारती भूषण"(राष्ट्रीय राज-भाषा पीठ, प्रयागराज),"काव्य सरस्वती"(अखिल भारतीय हिंदी  साहित्य परिषद, कप्तानगंज),"साहित्य शिल्पी सम्मान"(साहित्य द्वार संस्था ,बस्ती),"सहयोग साहित्य सम्मान" (सोनल साहित्यिक समूह, बाड़मेर, राजस्थान),"श्रेष्ठ सृजन सम्मान"(राष्ट्रीय कवि चौपाल, राजस्थान),"बेस्ट हिंदी राईटर ऑफ़ द ईयर-2020" (राजल वेल-फेयर एंड डवलपमेंट संस्थान, जोधपुर) "राष्ट्र गौरव कलम सम्मान"(अर्णव कलश एसोसिएशन, हरियाणा),"श्रीमती फुलवती देवी साहित्य सम्मान"(मीन साहित्य संस्कृति मंच, हरियाणा ),"साहित्य साधक सम्मान"(अखिल भारतीय साहित्यिकी मंच, सहरसा) "लीटरेरी कैप्टन"(स्टोरी मिरर इंडिया,मुंबई-2020),एवं विभिन्न प्रतियोगिताओं मे भारत सरकार द्वारा सम्मान प्राप्त इत्यादि! शौक ~ वैज्ञानिक दृष्टिकोण रखना , विज्ञान एवं साहित्य की किताबें पढ़ना, मोटीवेशन करना ! रूचि ~ साहित्य को विज्ञान की दृष्टिकोण से लिखना , सभी विषयों में परिपूर्ण बनना! हमेशा दिखा-वे की दुनिया से दूर रहना !  सदस्य ~ भारतीय ज्ञानपीठ (आजीवन सदस्य) पता ~          पुरानी बजार चैनपुर          पोस्ट - चैनपुर, थाना - सिसवन         जिला - सीवान , पिन - 841203             (बिहार) मो0 ~ 9006961354 What apps ~ 9934963293 E- mail ~ rupeshkumar000091@mail.com             ~ rupeshkumar01991@gmail.com