हिन्दी हिन्द का मान है

हिन्दी हिन्द का मान है

हिन्दी हिन्द का मान है ।
भारत के ग्रथों का ज्ञान हैं ।
जन जन की पहचान  हैं ।
 कबीर सूर  का सम्मान है ।
 मीठे सरल हिंदी के बोल ।
दे दिलो में मिश्री ये घोल ।
 विश्व पटल का सार हिन्दी
जन जन की पुकार हिन्दी ।
हिन्दी का गुणगान करेंगे ।
हिन्दी का हम मान करेंगे ।
हिंदी राष्ट्र की भाषा है ।
हिंदी भारत की परिभाषा है ।
जन मानस को जोड़ रही
उन्नति के शिखर दौड़ रही ।
हिंदी की बात निराली है।
हिंदी प्रेम की प्याली है ।
ममता की यह खोली है ।
हर प्राणी की बोली है ।।


अमित कुमार बिजनौरी

(Visited 23 times, 1 visits today)