स्वतंत्रता दिवस पर बाबूलाल शर्मा बौहरा के दोहे

#poetryinhindi,#hindikavita, #hindipoem, #kavitabahar 


 *दोहा छंद*



*भारत* मेरा  हो सदा, उन्नत  भानु समान।
*मेरा* सत संकल्प है,  अमर तिरंगा शान।।
.                  ????
*देश*  प्रेम सद् भावना,  दुनिया में  मशहूर।
*है* पर्वत से हम अचल, प्रेम त्याग भरपूर।।
.                  ????
*रखूँ तिरंगा*  सर्वदा, दुनिया में सिरमौर।
*मान*  तिरंगे का रहे, स्वार्थ रखूँ न और।।
.                  ????
*भारत  मेरा  देश है, रखूँ  तिरंगा मान।*
मिले तिरंगा ही कफन,एक यही अरमान।।
.                  ????
*शर्मा  बाबू  लाल* ने, दोहे लिख के पाँच।
प्रेम तिरंगे से लिखा,भाव लिखे मन साँच।।
.                  ????
  
बाबू लाल शर्मा “बौहरा*
सिकंदरा,दौसा,राजस्थान
 इस पोस्ट को like करें (function(d,e,s){if(d.getElementById(“likebtn_wjs”))return;a=d.createElement(e);m=d.getElementsByTagName(e)[0];a.async=1;a.id=”likebtn_wjs”;a.src=s;m.parentNode.insertBefore(a, m)})(document,”script”,”//w.likebtn.com/js/w/widget.js”);
(Visited 5 times, 1 visits today)