कोरोना के कहर से कोई न अछूता है

0 415

कोरोना के कहर से कोई न अछूता है

कोरोना के कहर से कोई न अछूता है ,
किसी का ऑक्सीजन बिना दम घूंटा ,तो कोइ घूंट घूंट कर जीता है ।



इस बीमारी ने न जाति देखा न धर्म न समुदाय ,
बड़े बड़े साधु संत , मौलवी , फादर भी कहाँ बच पाए…।



किसी का अपनों का साथ तो किसी का रोजगार छूटा है ,
स्कूल कोचिंग पर ताला तो, करोड़ो विद्यार्थियों का सपना टूटा है ।



रोक तो वो भी न पाये अपने देश की बदहाली ,
जो दुनिया मे दावा करते थे हम है शक्तिशाली ।



कोरोना के शव के पास जब कोई नहीं आता तो लगता हर नाता रिश्ता झूठा है ,
इस संकट के घड़ी मे बहुतो ने कालाबाजारी कर भी लुटा है ।



मन मे विश्वास रखे और सावधानी से रहे… यह वक़्त भी गुजर जायेगा ,
अब वो वक़्त भी दूर नहीं जब हर चेहरा मुस्कुरायेगा ।

✍🏻 Written by – Rohit Kumar Lucky
Muzaffarpur , Bihar

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.