KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

कविता बहार बाल मंच ज्वाइन करें @ WhatsApp

@ Telegram @ WhatsApp @ Facebook @ Twitter @ Youtube

लाला लाजपत राय -सन्त राम सलाम

0 59

लाला लाजपत राय – सन्त राम सलाम द्वारा रचित

हाथ जोड़ने से नहीं मिलेगा,
न भीख और न कोई अधिकार।
आजादी के लिए बनना होगा,
गरम लोहा से बनकर हथियार।।

लाल बाल पाल गरम दल के नेता,
भारतीय क्रांतिकारी में नाम गिनाए।
पुलिस अफसर सांडर्स को गोली से,
राज गुरु व भगतसिंह ने मार गिराए।।

गुलाब देवी थी लाजपत राय की माता,
जिसने भारत को वीर सपूत दिया।
पंजाब केसरी वीर बनकर के भारत में,
गरम दल के नेता लाल नाम से मशहूर किया।।

बाल गंगाधर तिलक और विपिनचंद्र पाल,
आजादी के दीवाने विश्वासी सहभागी बने,
स्वामी विवेकानन्द के अनमोल विचार से।
क्रांतिकारी बन कर अंग्रेजों के सामने तने।।

साहित्य लेखन और पत्रकारिता में रूचि,
देश भक्ति से ओत-प्रोत दिग्गज नेता बने,
आजादी दिलाने हेतु गुलाम भारत को,
साइमन कमीशन के विरोध में मैदान में तने।।

भारतीय राष्ट्रवादी आंदोलन में लाला जी,
स्वतंत्रता संग्राम सेनानी विख्यात हुए।
पंजाब नेशनल बैंक के संस्थापक और,
लक्ष्मी बीमा कंपनी के स्थापना भी किए।।

लाठी चार्ज में बुरी तरह से घायल हुए,
जब विरोध में अडिग थे साइमन कमीशन के।
17 नवम्बर 1928 को विदा लिए दुनिया से,
क्रान्तिकारियों के हाथों में छोड़े बिना मिशन के।

✍️सन्त राम सलाम
भैंसबोड़(बालोद),छत्तीसगढ़।

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.