चैत्र शुक्ल श्री राम नवमी Chaitra Shukla Shri Ram Navami

राम-नाम विधा :- चौपाई

राम-नाम विधा :- चौपाई

राम-नाम लगे सबको प्यारा |
सबने ही तन-मन में धारा ||
राम सभी के पूज्य कहावे |
सच्चे मन से सब जन ध्यावे ||

सबको सद् का मार्ग दिखाते |
बीच भँवर से पार लगाते ||
प्रभु नाम की जपे जो माला |
रहते उन पर सदा कृपाला ||

छण में दुष्ट ताड़का मारी |
छूँ कर शिला अहिल्या तारी ||
चखे बेर सबरी के खाए |
अंतर्मन से प्रभु मुस्काए ||

राम-नाम जग में अति पावन |
भजें सभी सबसे मनभावन ||
राम-नाम सब मन में धारें |
राम कृपा से भाग्य सँवारें ||


हरीश बिष्ट “शतदल”
रानीखेत || उत्तराखण्ड ||

Please follow and like us:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page