KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

रामायण के पात्रों पर दोहा

  ये सभी रामायण महाकाव्य के वे एक पात्र थे, जो प्रतिपल सीख का संदेश देते हैं।

0 971

रामायण के पात्रों पर दोहा

1. *श्री राम*
मर्यादा प्रतिबिंब श्री, राम चन्द्र अवधेश।
रघुवर दीनानाथ का, अनुयायी यह देश।।
2. *सीता*
विषम काल में साथ दें, माँ सीता का ज्ञान।
पति चरण को मानती, प्रथम पूज्य भगवान।।
3. *लक्ष्मण*
भ्रात प्रेम में लीन जो, सेवा का पर्याय।
ज्येष्ठ नात हो राम सम, नहीं भ्रमण अभिप्राय।।
4. *हनुमान*
भक्त शिरोमणि पूजते, सर्वप्रथम हनुमान।
दास कृपा श्री राम की, भक्त बने भगवान।।
5. *भरत*
राज्य संपदा त्याग के, साथ सगे के आप।
नूतन कर दी स्थापना, भ्रात प्रेम परिमाप।।
6 *दशरथ*
सोच समझ कर दीजिए, शपथ वचन वरदान।
लोभी लीला लालसा, अवनति की पहचान।।
7 *कैकेयी*
कुटिल मंथरा बोलती, साध सुखी निज स्वार्थ।
मातु कलंकित जग भयी, लज्जित कर चरितार्थ।।
8 *शबरी*
माता शबरी भीलनी,अटल प्रेम के साथ।
द्रवित प्रेम को देखकर, भावुक दीनानाथ।।
9 *रावण*
अतुलित बल अभिमान ले, छ्द्मी चाल चरित्र।
अहंकार को तोड़ती, अबला आन पवित्र।।
10 *विभीषण*
लंकापति के राज में, बहुधा थे प्रतिकूल।
राम भक्ति की भावना, अंक किया अनुकूल।।


*********22/10/2021**********

Leave a comment