KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

शहीद बना दो

0 183

शहीद बना दो

वतन पर शहीद हो जाऊँ,
ऐसा मेरा दिल बना दो ।
भगत,आजाद,
या फिर से मुझे बिस्मिल बना दो ।। (1)

तूफानों से निबाह,
मेरा बरसों से रहा ।
अब मुझे किसी कश्ती का,
शाहिल बना दो ।। (2)

दुश्मनों के नापाक ईरादे,
टिक नहीं पाएंगे ।
बस उनके लिए मुझे,
बेरहम क़ातिल बना दो ।। (3)

मातृभूमि के सिवा,
और कुछ भी याद न रहे ।
ऐसा कोई देशभक्त,
मुझे कोई फाज़िल बना दो ।। (4)

बसंती चोला लिए,
राख हो जाऊँ इस मुल्क पर ।
मेरे भी जीवन को,
तुम किसी काबिल बना दो ।। (5)

बापू के महान विचार,
जीवित रहें फ़लक पर ।
इस धरा की मिट्टी को,
सदा के लिए दुर्मिल बना दो ।। (6)

वीरों की शहादत को,
सुभद्रा सी रोशनाई दूँ ।
दिनकर,चतुर्वेदी,
या फिर मुझे धूमिल बना दो ।। (7)

प्रकाश गुप्ता ‘हमसफ़र’
पता :- रायगढ़ (छत्तीसगढ़)
मोबाईल नं. :- 7747919129

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.