KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

सखी रे तीज पर्व आया है( दूजराम साहू)

0 321

सखी रे तीज पर्व आया है,
भाई उपहार लाया है !
गुँज रहीं सारी गलियाँ,
बचपन याद आया है !!

बरसों बाद मिलीं सखियाँ ,
पुरानी बातें याद आयी !
हँसी – ठिठोली कर रही है,
देखों फिर बचपन आया है !!

ये पावन पर्व आया है,
भाई घर मनाना है !
सदा सुहागन की आशीष
परमेश्वर से पाना है !!

दूजराम साहू
निवास -भरदाकला(खैरागढ़)
जिला – राजनांदगाँव (छ.ग.)

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.