शुभमाल छंद विधान -बाबूलालशर्मा

  • जगण , जगण
  • . १२१ , १२१
  • . ६ वर्ण, ८ मात्रा
  • दो दो चरण सम तुकांत
  • चार चरण का एक छंद

स्वदेश महान


करें जय गान!
शहादत शान!
सुवीर जवान!
स्वदेश महान!

करें गुण गान!
सुधीर किसान!
पढ़े इतिहास!
बचे निज त्रास!

धरा निज मात!
प्रणाम प्रभात!
पिता भगवान!
सदा सत मान!

रहे यश गान!
स्वदेश महान!
प्रवीर जवान!
सुधीर किसान!
. *****
✍©
बाबू लाल शर्मा, बौहरा
सिकंदरा,दौसा,राजस्थान

(Visited 22 times, 1 visits today)

प्रातिक्रिया दे