KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

ऊर्जा संरक्षण पर कविता-महदीप जंघेल

1 377

ऊर्जा संरक्षण पर कविता – महदीप जंघेल

आओ मिलकर ऊर्जा दिवस मनाएँ।
ऊर्जा की बचत का महत्व समझाएँ।।

टीवी,पंखा,कूलर,बल्ब में ऊर्जा बचाएँ।
आवश्यकता हो तभी, इसे उपयोग में लाएँ।।

कच्चे तेल,कोयला,गैस की ,
मांग निरन्तर बढ़ रही है।
अंधाधुंध उपभोग से ,
प्राकृतिक संसाधन घट रही है।

ऊर्जा उपयोग कम करने का,
लाभ जन-जन को बतलाएँ।
भविष्य में उपयोग कैसे हो,
महत्व इसका समझाएँ।।

वर्तमान में ऊर्जा बचाकर ,
इसमें ही जीवन चलाएँगे।
भविष्य में नौनिहालों का ,
जीवन खुशहाल बनाएँगे।

ऊर्जा संरक्षण में सभी मिलकर,
करें कुछ अच्छे काम।
करें प्रेरित सबको बचत ऊर्जा का,
हो अपने देश का रौशन नाम।।

आओ मिलकर ऊर्जा दिवस मनाएँ।
ऊर्जा संरक्षण में जनजागरूकता लाएँ।

सन्देश- ऊर्जा की बचत करें,
एवं दूसरों को प्रेरित करें।

✍️रचनाकार – महदीप जंघेल
निवास ग्राम- खमतराई
तहसील- खैरागढ़
जिला-राजनांदगांव(छ.ग)

Show Comments (1)