आश्विन कृष्ण सप्तमी महालक्ष्मी व्रत

लक्ष्मी माता की आरती

लक्ष्मी माता की आरती ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता। तुमको निस दिन सेवत हर-विष्णु-धाता॥ ॐ जय... उमा, रमा, ब्रह्माणी, तुम ही जग-माता। सूर्य-चन्द्रमा ध्यावत, नारद ऋषि गाता॥…

टिप्पणी बन्द लक्ष्मी माता की आरती में

माँ लक्ष्मी वंदना-डॉ.सुचिता अग्रवाल”सुचिसंदीप”

माँ लक्ष्मी वंदना(लावणी छन्द)चाँदी जैसी चमके काया, रूप निराला सोने सा।धन की देवी माँ लक्ष्मी का, ताज चमकता हीरे सा।जिस प्राणी पर कृपा बरसती, वैभव जीवन में पाये।तर जाते जो…

0 Comments