यहाँ पर हिन्दी कवि/ कवयित्री आदर० गगन उपाध्याय”नैना”के हिंदी कविताओं का संकलन किया गया है . आप कविता बहार शब्दों का श्रृंगार हिंदी कविताओं का संग्रह में लेखक के रूप में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा किये हैं .

गगन उपाध्याय नैना की रचनाएँ

गगन उपाध्याय नैना की रचनाएँ माँ वर्णन जो गाये लिखते लिखते मेरी लेखनी                अकस्मात रूक जायें।कोई शब्द नहीं मिल पाये                   माँ वर्णन जो गाये।।धीरे-धीरे जीवन बीता                    बीते पहली यादें।बचपन में…

0 Comments