Jyesht Shukla Purnima Vat Savitri ||ज्येष्ठ शुक्ल पूर्णिमा वट सावित्री

वट सावित्री पूजा पर दोहे -बाबू लाल शर्मा

वट सावित्री पूजा पर दोहे -बाबू लाल शर्मा वट सावित्री पूज कर, जो रखती उपवास।धन्य धन्य है भारती, प्राकत नारी आस।। ढूँढे पूजन के लिए, बरगद दुर्लभ पेड़।पथ भी दुर्गम हो रहे, हुई कँटीली मेड़।। पेड़ सभी है काम के, रखना इनका ध्यान।दीर्घ आयु होता सखे, वट का पेड़ महान।। पुत्र सरीखे पालिए, सादर तात …

वट सावित्री पूजा पर दोहे -बाबू लाल शर्मा Read More »