KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

माँ सिद्धिदात्री

0 27

माँ सिद्धिदात्री(कुंडलियाँ)

???????????

Related Posts
1 of 11

माता दुःखनिवारिणी ,सभी सुखों की धाम।
सिद्धिदात्री रूप नवम,छविअम्बाअभिराम।।
छवि अम्बा अभिराम, करो मात आराधना।
करती भव से पार ,शक्ति की करो साधना।।
कहता कवि करजोरि, छूटता दुख से नाता।
करता है जो भक्ति , मुक्ति देती है माता।।
????
करता है जो मात की, जप तप पूजा ध्यान।
करती देवी भक्त के , कष्टों का अवसान।।
कष्टों का अवसान , हो पूरण हर कामना।
चतुर्भुजा हे मात , सभी करें हम साधना।।
कहत नवल करजोरि,ध्यान जो माँ काधरता।
मिलतीशक्तिअपार,भक्ति जो माँ की करता।।

???????????

©डॉ एन के सेठी