Read more about the article पंजाब धरा का सिंह शूर
Bhagat singh

पंजाब धरा का सिंह शूर

पंजाब धरा का सिंह शूर विधा-पदपादाकुलक राधेश्यामी छंद पर आधारित गीत। पंजाब धरा का सिंह शूर, फाँसी पर हंसकर झूल गया।बस याद उसे निज वतन रहा,दुनियादारी सब भूल गया। माँ…

0 Comments
Read more about the article भगत सिंह की याद में
Bhagat singh

भगत सिंह की याद में

भगत सिंह की याद में टपक टपक के आंसुओं का दरिया बन गयासितम गम का, समा भी गमगीन हो गया। खामोशी बिखरी ,मुर्दों पर ढकी कफ़न लिएपर कदम ना थके…

1 Comment