KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR
Browsing Tag

~चोका

चोका जापानी कविता की एक शैली है। ये लम्बी कविताएँ हैं। जापान के सबसे पहले कविता-संकलन मान्योशू में २६२ चोका कविताएँ संकलित हैं, जिनमें सबसे छोटी कविता ९ पंक्तियों की है। चोका कविताओं में ५ और ७ वर्णों की आवृत्ति मिलती है। अन्तिम पंक्तियों में प्रायः ५, ७, ५, ७, ७ वर्ण होते हैं।
IN ENGLISH,
Choka is a genre of Japanese poetry. These are long poems. Manyoshu, the first poetry collection of Japan, has 242 choka poems, the shortest poem being 6 lines. Frequency of 5 and 4 characters is found in Choka poems. The last lines usually have 5, 4, 5, 6, 6 characters.

मनीभाई नवरत्न के हिंदी में चोंका

यहाँ पर हम आपको मनीभाई नवरत्न के हिंदी में चोंका प्रस्तुत कर रहे हैं यदि आपको पसंद आई हो या कोई सुझाव हो तो नीचे कमेंट जरुर करें मनीभाई नवरत्न के चोंकाहिंदी में चोंकाचोका :- शीत प्रकोपचोका:-कौन है चित्रकार ?चोका:-मैं जमीन हूँचोका:-मेरा चांदचोका:- हमशक्लचोका -बन प्रकाशचोका: अब दर्द ही सिलाचोका:काव्य गढ़ता गयाचोका- संग मेरे रहनाचोका -कहाँ मेरा…
Read More...

चोका कैसे लिखें (How to write Choka )

चोका कैसे लिखें hindi choka || हिंदी चोका शिल्प की दृष्टि से चोका की पंक्तियों में क्रमशः 5 और 7 वर्णों की आवृत्ति होती है तथा अंतिम पाँच पंक्तियों में 5,7,5,7,7 वर्णक्रम अर्थात एक ताँका के क्रम से कविता पूर्ण होती है । कविता की लंबाई की सीमा रचनाकार की भाव पूर्णता पर निर्भर रहती है । या यूँ कहें कि 05,07 वर्णक्रम की अनवरत…
Read More...

माता पिता चोका

माता पिता चोका मां की ममतात्याग औऱ तपस्यामां की मूरतईश्वर का है नूरमां की ये लोरीसुरों की सरगममां का आंचलचंदा जैसी शीतलगंगा सा है निर्मल। पिता का सायाबरगद की छायापिता का त्यागसन्तान का भविष्यपिता का दर्दजान सका न कोईपिता का प्यारअसीमित आकाशव्यापक है विस्तार @अविअविनाश तिवारीअमोराजांजगीर चाम्पाछत्तीसगढ़
Read More...