#नीलम नारंग

HINDI KAVITA || हिंदी कविता

नीलम नारंग की कवितायेँ

नीलम नारंग की कवितायेँ दवा बन जा ले दर्द सारे किसी के लिए दवा बन जालेकर गम बस उसीका हमनवाँ बन जा सुन किसी के दिल की बात शिद्दत सेप्यार से समझा और राजदाँ बन जा काम आ दूसरों के सोच गम की बातदेकर साथ सब का खैरखवाह बन जा सुन दुख किसी का बस …

नीलम नारंग की कवितायेँ Read More »

HINDI KAVITA || हिंदी कविता

दवा बन जा-नीलम नारंग

दवा बन जा ले दर्द सारे किसी के लिए दवा बन जा लेकर गम बस उसीका हमनवाँ बन जा सुन किसी के दिल की बात शिद्दत सेप्यार से समझा और राजदाँ बन जा काम आ दूसरों के सोच गम की बात देकर साथ सब का खैरखवाह बन जा सुन दुख किसी का बस हँसते है …

दवा बन जा-नीलम नारंग Read More »

You cannot copy content of this page