KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR
Browsing Tag

@श्रावण शुक्ल पूर्णिमा रक्षाबंधन पर हिंदी कविता

श्रावण शुक्ल पूर्णिमा रक्षाबंधन

रक्षाबन्धन पर दोहे

रक्षाबन्धन पर दोहे १.🌼रिश्तों का  अनुबन्ध शुभ, रक्षा बन्धन पर्व।सनातनी शुभ रीतियाँ, उत्तम संस्कृति गर्व।।२.🌼पूनम सावन  मास  में, राखी  का त्योहार।भाई का  रक्षा  वचन, हर्षे  बहिन  अपार।।३.🌼विष्णु पत्नि लक्ष्मी शुभे, वे नारद मुनि रंग ।बलि को राखी भेजकर, लाई  हरि हर संग।।४.🌼रीति सनातन काल से, बंधु बहिन का प्यार।सांसारिक शुभ रीति यह, परिवारी…
Read More...

भाई-बहन का रिश्ता न्यारा- दीप्ता नीमा

भाई-बहन का रिश्ता न्यारा- दीप्ता नीमा भाई-बहन का रिश्ता न्यारालगता है हम सबको प्याराभाई बहन सदा रहे पासरहती है हम सभी की ये आसइस प्यार के बंधन पर सभी को नाज़।।1।।भाई बहन को बहुत तंग करता हैपर प्यार भी बहुत उसी से करता हैबहन से प्यारा कोई दोस्त हो नहीं सकताइतना प्यारा कोई बंधन हो नहीं सकताइस प्यार के बंधन पर सभी को नाज़।।2।।बहन की दुआ में भाई…
Read More...

भाई के कलाई में बांधने को प्यार से रक्षाबंधन (RAKSHYABANDHAN PAR KAVITA)

भाई के कलाई में बांधने को प्यार से रक्षाबंधन आई है बिटिया ,आई है बहना अपने घर आंगन।भाई के कलाई में बांधने को, प्यार से रक्षाबंधन।गूंजने लगी खुशियाँ, चहुंदिक् अति मनभावन ।रिमझिम ठण्डी फुहारों में भिगाेती अंतिम सावन। बहना आरती थाल लिये, देती भाई को बधाईयां।माथे तिलक लगा ,रक्षासूत्र से सजाती कलाईयां।भाई भी उपहारस्वरूप,हाथ बढ़ा के दे यह वचन।मेरे…
Read More...

रक्षाबंधन पर कविता

रक्षाबंधन पर कविता आया जी आया रक्षा बंधन का त्यौहार ,भाई - बहनों का का प्यार का त्यौहार ,जीवन के जन्मों-जन्मों का साथ देती ,बहना भाई के जीवन को रक्षा करती , संसार के हर दुखों से भाई की भलाई करती ,जन्म से लेकर मृत्यु तक जीवन की रक्षा करती हैं ,हर संकट मे हौसला बढ़ाती भाई को ,प्यार दुलार भाई पर लुटाती हमेशा , जीने की हजारों-हजार साल तक कामना…
Read More...

राधा और मीरा पर लेख

राधा और मीरा पर लेख *_आखिर माताएं राधा और मीरा क्यों नहीं चाहती?_* एक विचार प्रस्तुत किया गया कि "हर माँ चाहती है कि उनका बेटा कृष्ण तो बने मगर कोई माँ यह नहीं चाहती कि उनकी बेटी राधा बने"। यह कटु सत्य है और मैं इससे पूर्णतः सहमत हूँ। लेकिन यह विचार मात्र है विमर्श उससे आगे है। क्या राधा की माँ चाहती थी कि राधा कृष्ण की प्रेमिका बने? नहीं।…
Read More...

कारगिल जंग के वीर

कारगिल जंग के वीर वतन की हिफाजत के लिए त्याग दिए प्राण।तुमने आह!तक नहीं किये त्यागते समय प्राण।।सीने पर गोली खा के हो गये देश के लिए शहीद।मुख में था मुस्कान गोली खा के भी बोले जय हिंद।।मेरे वतन के जांबाज सिपाहियों तुमको शत्-शत् नमन।कारगिल जंग के वीर शहीदों तुमको शत् शत् श्रद्धा सुमन।। 1।। धन्य हैं जिसने तुमको आंचल में छुपा कर दुध पीलाई वो…
Read More...