KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

हसीन जज्बा-माधवी गणवीर(Hasin zazba)

 हसीन जज्बा 

वतन के लिए कुर्बान होने की बात है
बस अपना फर्ज निभाने की बात है।

कोई हमसे पूछे दिलो का जज्बा,
हसीन कायनात सजाने की बात है।

वतन पे जान लुटाने वालो,
देश भक्ति का जज्बा जगाने की बात है।

अमन और शान्ति से देश रहेगा
हरमो करम खुदा की होने की बात है।

हसीन सौगाते दे जायेगे मुल्क को
दिलो में भाई चारा लाने की बात है।

      माधवी गणवीर
      डोंगरगांव
जिला -राजनादगांव