KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

नमन शहीदों को

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

नमन शहीदों को

नमन शहीदों को

हंसकर जिसने बलिदानी दी !

भारत मां के बेटों ने

सरहद कुर्बान जवानी की !

यह कुर्बानी भारत मां के,

एक दिल में छुपी निशानी है !

भगत सुभाष शेखर जैसे वीरों की

अमर लिखी कहानी है !

जिनका स्वाभिमान सरहद पर

दुश्मन के आगे झुका नहीं !

यह ठोस कलेजा सिंहो का

अस्तित्व हमारा मिटा नहीं !

यह भरत वंश का पानी है

ना पीछे पर हटाते हैं !

जिसकी ललकारे सुनकर के

तूफान भी शीश झुकाते हैं !

फहराओ तिरंगा अंबर में

वीरों का उठ सम्मान करो !

गदगद कर दो भारत मां को

अर्पित तन मन धन प्राण करो !

14 फरवरी वीरों के जज्बों की

ऐसा फरियाद रहे!

अर्क व्योम में बना रहे

तब तक वीरों की याद रहे !

काव्य युक्त यह आर्यावर्त हमें

काव्य मयी स्वर वाणी दी !

करता हूं नमन शहीदों को

हंसकर जिसने बलिदानी दी।

अर्जुन श्रीवास्तव