#पद्मा साहू

यहाँ पर हिन्दी कवि/ कवयित्री आदर० पद्मा साहू के हिंदी कविताओं का संकलन किया गया है . आप कविता बहार शब्दों का श्रृंगार हिंदी कविताओं का संग्रह में लेखक के रूप में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा किये हैं .

Mahatma gandhi

गाँधी की जरूरत -पद्मा साहू “पर्वणी”

गाँधी की जरूरत -पद्मा साहू “पर्वणी” पदमा साहू “पर्वणी” के दोहेखैरागढ़ जिला राजनांदगांव छत्तीसगढ़ गाँधी की जरूरत -पद्मा साहू “पर्वणी” “पुनः जरूरत देश को, गाँधी तेरी आज।”* सत्य अहिंसा सादगी, ब्रम्हचर्य विश्वास।आत्म शुद्धि व्यवहार है, गाँधी जीवन खास।। गाँधी के सिद्धांत यह, परम धर्म हो धेय।जीवन शाकाहार हो,ध्यान धरो अस्तेय।। महा प्रणेता देश के, गाँधी …

गाँधी की जरूरत -पद्मा साहू “पर्वणी” Read More »

श्रीमती पदमा साहू की 10 कवितायेँ

नारी का साहस जग में नारी का अवतार चार,माता , भार्या, पुत्री, बहना।सौम्य स्वभाव ,त्याग ,सेवा ,नारी का है अद्भुत गहना।नारी साहस, प्रेरणा की मूर्ति ,ममता ,वात्सल्य नारी का खजाना।नारी है गृहस्ती का पहिया,परिवार की आस्था और भावना।रणक्षेत्र में दुर्गा ,लक्ष्मी नारी ।समाज रक्षक शत्रु संहारणा ।प्राचीन नारी का गौरव देखो ,बनके उभरी सामाजिक संरचना।पशु …

श्रीमती पदमा साहू की 10 कवितायेँ Read More »

Happy-fathers-Day

पिता सदा आदर्श हैं (पिता पर दोहे)

पिता सदा आदर्श हैं (पिता पर दोहे) ख्याल रखें संतान का, तजकर निज अरमान।खुशियाँ देते हैं पिता, रखतें शिशु का ध्यान। ।१ मुखिया बन परिवार का , करतें नेह समान ।पालन पोषण कर पिता , बनते हैं भगवान ।।२ जिसकी ऊँगली थामकर , चलना सीखें आज ।मातु–पिता को मान दें, करें हृदय में राज।।३ शीतल …

पिता सदा आदर्श हैं (पिता पर दोहे) Read More »

31 May - World No Tobacco Day||31 मई विश्व तंबाकू निषेध दिवस

तंबाकू मीठा जहर (विश्व तंबाकू निषेध दिवस कविता) – पद्मा साहू पर्वणी

31 मई को दुनिया भर में हर साल विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जाता है। इस दिन का उद्देश्य तंबाकू सेवन के व्यापक प्रसार और नकारात्मक स्वास्थ्य प्रभावों की ओर ध्यान आकर्षित करना है, जो वर्तमान में दुनिया भर में हर साल 70 लाख से अधिक मौतों का कारण बनता है, जिनमें से 890,000 गैर-धूम्रपान …

तंबाकू मीठा जहर (विश्व तंबाकू निषेध दिवस कविता) – पद्मा साहू पर्वणी Read More »

hindi kundaliyan || हिंदी कुण्डलियाँ

हिन्दी कुंडलिया: घायल विषय

हिन्दी कुंडलिया: घायल विषय घायल रिपु रण में मिले , शरणार्थी है जान ।प्राण बचाने शत्रु का, नीर कराओ पान।नीर कराओ पान, सीख मानवता लेकर।भेदभाव को त्याग, प्रेम का परिचय देकर।कहे पर्वणी दीन, शत्रु फिर होंगे कायल ।समर भूमि में देख , करें सब सेवा घायल।। घायल करते कटु वचन, हृदय बढ़ाते पीर ।शब्द बाण …

हिन्दी कुंडलिया: घायल विषय Read More »

happy new year

पद्मा के दोहे – मंगल हो नववर्ष

पद्मा के दोहे – मंगल हो नववर्ष दास चरण नित राखिए, हे सतगुरु भगवान ।विघ्न हरो मंगल करो, शुभता दो वरदान।।1 मंगल हो नव वर्ष में , ऐसा दो वरदान।त्रास हरो संसार का, हे कृपालु भगवान।।2 कोरोना के त्रास में, सत्र बिताएँ बीस।स्वास्थ्य खुशी सौभाग्य दें, मंगल हो इक्कीस।।3 लेकर नूतन वर्ष को, मन में …

पद्मा के दोहे – मंगल हो नववर्ष Read More »

विश्व विकलांगता दिवस || World Disability Day .j

हूँ तन से दिव्यांग मन से नहीं-(विश्व दिव्यांग दिवस विशेष)

एक दिव्यांग अपनी दिव्यांगता को कमजोरी नहीं बल्कि आत्म बल साहस बना सबको एक नई दिशा देता है और नित आगे बढ़ता है

1 नवम्बर छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस 1 November Chhattisgarh State Foundation Day

महिमा मोर छत्तीसगढ़ के..गीत पद्मा साहू पर्वणी

महिमा मोर छत्तीसगढ़ के छत्तीसगढ़ महतारी मोर, तोर महिमा हे बड़ भारी।गजब होवत हे नवा बिहान, छत्तीसगढ़ के संगवारी। ये भुइयाँ के नाम हे पहिली दक्षिण महाकोसल,अउ हे छत्तीस किला ले एकर छत्तीसगढ़ नाम।लव-कुश के जनम इही भुइयाँ मा संगी,कौशिल्या के मईके, अउ ननिहाल हरे प्रभु राम ।मध्यपरदेश के दुहिता, दाई मोर छत्तीसगढ़,हरियर लुगरा पहिने …

महिमा मोर छत्तीसगढ़ के..गीत पद्मा साहू पर्वणी Read More »

You cannot copy content of this page