KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR
Monthly Archives

नवम्बर 2019

दर्द कागज़ पर बिखरता चला गया

दर्द कागज़ पर बिखरता चला गया रिश्तों की तपिश से झुलसता चला गया अपनों और बेगानों में उलझता चला गया दर्द कागज़ पर बिखरता चला गया कुछ अपने भी ऐसे थे…

टूटते सपनों की कसक( Vijiya Gupta samidha)

हर किसी की जिंदगी में होती है,कुछ टूटते सपनों की कसक।सब अरमान सभी के,कभी पूरे नहीं होते।नन्ही किलकारी की आवाज से पहले,माँ बुनने लगती है,रंग…

भव्य आकर्षक ताजमहल -शशिकला कठोलिया (Bhavya aakarshak Tajmahal)

मौत भी मिटा नहीं सकी ,मन में रहे यादें हर पल ,भारत के आगरा में बना ,भव्य आकर्षक ताजमहल ।फैली है इसकी खूबसूरती ,देख सकते जहां तक ,सात आश्चर्य में…

लौट आओ फिर से मेरी जिंदगी मे(LR Seju Thob Prince)

किसे कहूं दर्द मेराओ मेरे साजनलगे सब कुछ सुना सुना सातुम बिन छाई मायूसीकाटने को दौड़ते हैं ये लम्हेहर पल, पल पल भीवीरान खण्डहर की तरहछाया काली…

जय जय देव गणेश,विघ्न हर्ता वंदन है-छप्पय छंद(Sukmoti chauhan…

छप्पय छंद जय जय देव गणेश,विघ्न हर्ता वंदन है।लम्बोदर शुभ नाम,शक्ति शंकर नंदन है।सर्व सगुण की मूर्ति ,रिद्धि सिद्धि जगत मालिक।अतुल ज्ञान…

आसमान पे सूराख़-नरेन्द्र कुमार कुलमित्र (aasman pe surakh)

आसमान पे सूराख़  (22.11.19) दुष्यंत कुमार जीमेरी तबीयत ठीक हैहाँ बिलकुल ठीकअब आसमान परकोई पत्थर नहीं उछालूँगासूराख़ ही सूराख़ है आसमान मेंबिगड़ गई है…