फाल्गुन पूर्णिमा होलिका दहन

गीत माला

. ? *गीतमाला* ? © सर्वाधिकार सुरक्षित ® बाबू लाल शर्मा बौहरा *विज्ञ* सिकंदरा,दौसा, राजस्थान (भारत) के ४२ छंदाधारित चुनिंदा *गीत/नवगीत* का अनूठा संग्रह १""""""""""""""""बाबूलालशर्मा *विज्ञ* . *प्रेम/प्यार करूँ* .…

0 Comments

होली चालीसा

????????? ~~~~~~~~~~~~बाबूलालशर्मा . . *होली चालीसा* . ??? दोहा-- याद करें प्रल्हाद को,भले भलाई प्रीत। तजें बुराई मानवी, यही होलिका रीत।। चौपाई-- हे शिव सुत गौरी के नंदन। करूँ आपका…

2 Comments

फागुन के रंग

फागुन के रंग हर इंसान अपने रंग में रंगा है, तो समझ लो फागुन की होली है। हर रंग कुछ कहता ही है, हर रंग मे हंसी ठिठोली है। जीवन…

0 Comments

मधुमासी ऋतु परम सुहानी-प्रवीण त्रिपाठी

*चौपाई छंद में बसंत…* मधुमासी ऋतु परम सुहानी, बनी सकल ऋतुओं की रानी।1 ऊर्जित जड़-चेतन को करती, प्राण वायु तन-मन में भरती।2 कमल सरोवर सकल सुहाते, नव पल्लव तरुओं पर…

0 Comments

होली चालीसा (holi chalisa)

       *होली चालीसा*दोहा--याद करें प्रल्हाद को,भले भलाई प्रीत।तजें बुराई मानवी, यही होलिका रीत।।चौपाई--हे शिव सुत गौरी के नंदन।करूँ आपका नित अभिनंदन।।१मातु शारदे वंदन गाता।भाव गीत कविता में आता।।२भारत…

0 Comments

होलिका दहन करें(holika dahan kare)

होलिका दहन करेंबुराई खत्म करने का प्रण करेंआओ फिर होलिका दहन करें।औरत की इज्जत का प्रण करें,आओ फिर होलिका दहन करें।यहां तो हर रोज जलती है नारीदहेज कभी दुष्कर्म की…

0 Comments

देश हित खेलते हैं, खून से भी  होलियाँ

*मनहरण घनाक्षरी छंद विधान*८,८,८,७ वर्ण कुल ३१वर्ण,१६,१५,पर यतिपदांत गुरु अनिवार्यचार पद सम तुकांत हो.                        ----------.                       *होली*.                         ---------रूप रंग वेष भूषा, भिन्न राज्य और भाषा,देश  हित  वीर  वर, बोल  भिन्न  बोलियाँ।सीमा…

0 Comments

रंगो का त्योहार होली(rango ka tyohaar holi)

रंगो का त्योहार होलीहोली पर्व रंगों का त्योहार,पिचकारी पानी की फुहार।अबीर गुलाल गली बाजार,मस्तानो की टोली घर द्वार।हिरण्यकश्यप का अभिमान,होलिका अग्नि दहन कुर्बान।प्रहलाद की प्रभु भक्ति महान,श्रद्धा व विश्वास का…

0 Comments