विश्व रंगमंच दिवस के अवसर पर एक कविता

इस कविता के माध्यम से हम सभी विश्व रंगमंच दिवस के महत्व को समझते हैं और इस उत्सव के महत्व को मनाते हैं, जो संस्कृति, कला, और समाज को एकसाथ लाता है।

विश्व रंगमंच दिवस के अवसर पर यहाँ एक कविता प्रस्तुत की जा रही है:

विश्व रंगमंच के दीप सजाएं,
गीत नृत्य से दिल बहलाएं।
प्रतिभाओं को सम्मान दिलाएं ,
हर जन भाषा को मान दिलाएं ।

अभिनय से भावना व्यक्त हो,
नयी दिशा में नयी सोच हो।
छलांग भरें हर किरदार में ,
रंगमंच पर अब कथा मस्त हो।

नाटकों के हैं विविध रंग ,
ताकत बन समाज हैं संग ।
रंगमंच दुनिया की अलग उमंग ,
विविध भाव और विविध ढंग।

आओ मिलकर जश्न मनाएं,
उत्साह उमंग का मन बनाएं।
विश्व रंगमंच दिवस पर हम सभी,
चलो नाचें और एक गीत गाएँ ।

You might also like

Comments are closed.