पर्यावरण बचाएंगे- अनामिका श्रीवास्तव

पर्यावरण बचाएंगे- अनामिका श्रीवास्तव

save tree save earth
poem on trees

पानी हवा पेड़ और मिट्टी ।
इनसे ही मां धरती सजती ।
यह सब है धरती के अंग ।

मानव जीवन इनके संग ।।

अज्ञान मनुष्य अनजान है
बस लेता पेड़ों की जान है।
पर वह नहीं समझता है
पेड़ों से ही उनके प्राण हैं ।।


यदि नहीं कर सकते कोई काम
तो लगाओ पौधे धरती के नाम ।
करो रक्षा तुम वनों की हमेशा
देंगे फल-फूल ,हवा-छांव- रेशा।


करना है अब यह प्रण हमें
हम पेड़ों को बचाएंगे ।
करके थोड़ा थोड़ा प्रयास सभी

पर्यावरण बचाएंगे …पर्यावरण बचाएंगे।

You might also like