यहाँ पर हिन्दी कवि/ कवयित्री आदर0मनोरमा चन्द्रा रमा के हिंदी कविताओं का संकलन किया गया है . आप कविता बहार शब्दों का श्रृंगार हिंदी कविताओं का संग्रह में लेखक के रूप में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा किये हैं .

hindi doha || हिंदी दोहा
hindi doha || हिंदी दोहा

बहार शब्द पर दोहा

बहार शब्द पर दोहा रंग बिरंगे फूल से ,            छाए बाग बहार ।भौरें भी मदमस्त हो ,           झूमे मगन अपार ।।रखें भरोसा ईश पर ,             जीवन हो उजियार ।सदा प्रतिष्ठा मान…

0 Comments
15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस 15 August Independence Day
15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस 15 August Independence Day

जब तक तन में प्रान

15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस 15 August Independence Day करो लोकहित तुम मनुज जब तक तन में प्रान देश सदा उन्नति करे ,मन में लेना ठान ।करो लोकहित तुम मनुज ,जब…

1 Comment

चाँद पर कविता

चाँद पर कविता चाँद बिखरता चाँदनी,करता जग अंजोर।चंद्र कांति से नित लगे,अभी हुआ है भोर।। दुनिया भर से तम मिटा,चारों दिशा प्रकाश।नील गगन पर दिव्यता,आलोकित आकाश।। नवग्रह देव मयंक हैं,धरो…

0 Comments

साधना पर कविता

साधना पर कविता करूँ इष्ट की साधना,कृपा करें जगदीश।पग पग पर उन्नति मिले,तुझे झुकाऊँ शीश।। योगी करते साधना,ध्यान मगन से लिप्त।बनते ज्ञानी योग से,दूर सभी अभिशिप्त ।। जो मन को…

1 Comment
March 23 Martyrs Day
March 23 Martyrs Day

शहीदों की कुर्बानी पर कविता -मनोरमा जैन पाखी

शहीदों की कुर्बानी पर कविता -मनोरमा जैन पाखी March 23 Martyrs Day पवन वेग से उड रे चेतक ,जहाँ दुश्मन यह आया है ।रखा रुप विकराल दुष्ट ने ,ताँडव  वहाँ …

0 Comments