11 जुलाई विश्व जनसंख्या दिवस पर हिंदी कविता

11 जुलाई विश्व जनसंख्या दिवस

World-population-Day

जनसंख्या वृद्धि

जनसंख्या वृद्धि बड़ी भीड़ है, भरी भीड़ है आबादी इतनी देश की,संसाधनों की कमी बड़ी है। धरती का घटतासा जलस्तर चिंता का विषय बड़ा है।ऑक्सीजन की कमी के चलते, आक्सीजन सिलेंडर का व्यापार चल पड़ा है चिंता आने वाले कल कीबॉटल में न आक्सीजन बिके,जैसे बिके जल धरती पर | साइकिल चलाना, स्वस्थ रहना पेट्रोल …

जनसंख्या वृद्धि Read More »

11-July-world-population-day

जनसंख्या विस्फोट – महदीप जंघेल

जनसंख्या वृद्धि देश और समाज के लिए गंभीर खतरा है। आबादी लगातार बढ़ रहे है। और संसाधन घट रहे है।
सोच को बदलना होगा,बढ़ते जनसंख्या पर काबू करना होगा और संसाधन में वृद्धि करनी होगी।

11-July-world-population-day

बढ़ती जनसंख्या – घटते संसाधन

बढ़ती जनसंख्या – घटते संसाधन अशिक्षा ने हमें खूब फसाया,धर्म के नाम पर खूब भरमाया ।अंधविश्वास के चक्कर में पड़,जनसंख्या बढ़ा हमने क्या पाया? बढ़ती जनसंख्या धरा पर ,बढ़ रहा है इसका भार।चहुँ ओर कठिनाई होवे,होवे समस्या अपरम्पार। वन वृक्ष सब कटते जाते,श्रृंगार धरा के कम हो जाते।रहने को आवास के खातिर,कानन सुने होते जाते। …

बढ़ती जनसंख्या – घटते संसाधन Read More »

11-July-world-population-day

जनसंख्या वृद्धि की कहानी

जनसंख्या वृद्धि की कहानी स्वार्थ – पूर्ण जीवन के आनंद में मानव हो गया अंधा,काटते वन – वृक्ष को और करते रोजगार – धंधा।जनसंख्या वृद्धि से लोगों में ये शामत आई है,कम होते संसाधन से विश्व में संकट छाई है।दूर करेंगे इस समस्या को ये मौका हमें नहीं गंवानी,चलाकर अभियान रोकेंगे, जनसंख्या वृद्धि की कहानी। …

जनसंख्या वृद्धि की कहानी Read More »

You cannot copy content of this page