#दुर्गेश मेघवाल

यहाँ पर हिन्दी कवि/ कवयित्री आदर०दुर्गेश मेघवाल के हिंदी कविताओं का संकलन किया गया है . आप कविता बहार शब्दों का श्रृंगार हिंदी कविताओं का संग्रह में लेखक के रूप में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा किये हैं .

HINDI KAVITA || हिंदी कविता

विश्वकप क्रिकेट पर कविता

विश्वकप क्रिकेट खेल का आयोजन अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) द्वारा हर चार साल में किया जाता है, जिसमें प्रारंभिक योग्यता के दौर में फ़ाइनल टूर्नामेंट तक होता है। यह टूर्नामेंट दुनिया के सबसे ज्यादा देखे जाने वाले खेल आयोजनों में से एक है और इसे आईसीसी द्वारा “अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट कैलेंडर का प्रमुख कार्यक्रम” माना जाता …

विश्वकप क्रिकेट पर कविता Read More »

कार्तिक कृष्ण चतुर्थी करवाचौथ Karthik Krishna Chaturthi Karvachauth

करवाचौथ पर हिंदी कविता

करवाचौथ पर हिंदी कविता– करवा चौथ हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। यह भारत के जम्मू, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश और राजस्थान में मनाया जाने वाला पर्व है। यह कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है। यह पर्व सौभाग्यवती (सुहागिन) स्त्रियाँ मनाती हैं। यह व्रत सवेरे सूर्योदय …

करवाचौथ पर हिंदी कविता Read More »

साक्षरता का अर्थ

हिन्दी वर्णमाला पर कविता – दुर्गेश मेघवाल

हिन्दी वर्णमाला पर कविता- दुर्गेश मेघवाल अ से अनार ,आ से आम , पढ़ लिख कर करना है नाम। इ से इमली , ई से ईख , ले लो ज्ञान की पहली सीख । उ से उल्लू ,ऊ से ऊन, हम सबको पढ़ने की धुन । ऋ से ऋषि की आ गई बारी, पढ़नी है …

हिन्दी वर्णमाला पर कविता – दुर्गेश मेघवाल Read More »

क्यों करता हूँ कागज काले – डी कुमार–अजस्र

*स्वरचित रचना* *क्यों करता हूँ कागज काले..??* क्यों करता हूं कागज काले …??बैठा एक दिन सोच कर यूं ही ,शब्दों को बस पकड़े और उछाले ।आसमान यह कितना विस्तृत ..?क्या इस पर लिख पाऊंगा ?जर्रा हूं मैं इस माटी का,माटी में मिल जाऊंगा। फिर भी जाने कहां-कहां से ,कौन्ध उतर सी आती है ..??अक्षर का …

क्यों करता हूँ कागज काले – डी कुमार–अजस्र Read More »

Ganeshji

गणेश विदाई गीत – डी कुमार-अजस्र

अनन्त चतुर्दशी की बधाई एवं अनन्त शुभकामनाओं सहित यह गणेश विदाई गीत लिखी गई है

dipawali rangoli

पांच दिवसीय पर्व दीपावली – डी कुमार अजस्र

पांच दिवसीय पर्व दीपावली रचनाकार डी कुमार द्वारा स्वरचित रचना दीपावली के पाँच दिवसों का समग्र समायोजन करते हुए रचित की गई है

dipawali rangoli

प्रति दिवस दीपावली- डी कुमार -अजस्र

प्रस्तुत रचना //प्रति- दिवस दीपावली //डी कुमार –अजस्र द्वारा स्वरचित है जिसमें एक दिवस दीपावली की जगमग और खुशहाली को प्रति दिवस खुशहाली और जगमग में परिवर्तन का आवाहन है

कार्तिक अमावस्या गोवर्धन पूजा Kartik Amavasya Govardhan Puja

बैल दीवाली -डी कुमार अजस्र (दुर्गेश मेघवाल ,बूंदी /राजस्थान ) विधा -कविता/ पद्य

‘बैल दिवाली ‘ रचना डी कुमार–अजस्र द्वारा बैल (OX)दिवाली ,गोवर्धन पूजा अन्नकूट महोत्सव के संदर्भ में स्वरचित रचना है

आश्विन कृष्ण सप्तमी महालक्ष्मी व्रत Ashwin Krishna Saptami Mahalaxmi fast

एक दीप जलाएं उनके नाम -डी कुमार अजस्र

कविता ‘एक दीप जलाएं उनके नाम, के द्वारा रचयिता डी कुमार-अजस्र द्वारा दीपावली पर आमजन से वीर सैनिकों और देश के लिए हुए शहीदों के प्रति कृतज्ञता प्रदर्शित करते हुए उनके नाम एक दीपक जलाने का आह्वान किया गया है ।

8 मार्च अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 8 March International Women's Day

सर्व शक्ति का रूप है नारी /रचयिता:-डी कुमार–अजस्र

विधा:- पद्य/कविता विषय:-स्त्री शक्ति की प्रतिमूर्ति रचना शीर्षक:- *सर्वशक्ति का रूप है नारी* रचनाकार नाम :- *डी कुमार–अजस्र(दुर्गेश मेघवाल,बून्दी/राज.)* प्रतियोगिता के लिए:- हाँ प्रतियोगिता नियमावली मंजूर:- हाँ डाक प्राप्ति पता :- दुर्गेश कुमार मेघवाल(व्याख्याता) आत्मज श्री प्रभू लाल मेघवाल ‘काला सदन’ पुराना माटुंदा रोड़ ,इंद्रा कॉलोनी बून्दी ,जिला बून्दी राजस्थान पिन:-323001 मोबाइल नम्बर :- 9461302199

You cannot copy content of this page