KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

यदि आपकी किसी एक ही विषय पर 5 या उससे अधिक कवितायेँ हैं तो आप हमें एक साथ उन सारे कविताओं को एक ईमेल करके kavitabahaar@gmail.com या kavitabahar@gmail.com में भेज सकते हैं , इस हेतु आप अपनी विषय सम्बन्धी फोटो या स्वयं का फोटो और साहित्यिक परिचय भी भेज दें . प्रकाशन की सूचना हम आपको ईमेल के माध्यम से कर देंगे.

मैंने माँ से पूछा? वंशिका यादव

माँ जो पहली बार आपके जन्म पर हँसी थी।
मैंने माँ से पूछा?,गद्य,वंशिका यादव

2 227

आज मैने माँ से पूछा कि क्या आप बिस्तर लगाते वक्त अब भी याद करती हैं?तो माँ ने कहा मेरे बच्चे जल्दी घर आजा मुझे तेरी याद आती है।

आज मेरी आँखे नम थी, और गला कुछ रुंधा सा था,क्योंकि मैं आज रोयी थी।तब शाम को मैने मम्मी को फोन किया और पूछा कि आप कैसे हो?माँ का अगला सवाल मुझसे था, चल तु बता तु रोयी क्यों है?
मैंने माँ से पूछा? गद्य,वंशिका यादव

Leave A Reply

Your email address will not be published.

2 Comments
  1. Sy says

    Mast hai beta

  2. वंशिका यादव अनुष्का (अनू) says

    Vo comment kare jo apni maa se pyaar karte hai