KAVITA BAHAR
SHABDON KA SHRIGAR

विश्व परिवार दिवस पर कविता -अमिता गुप्ता

13 1,425

विश्व परिवार दिवस पर कविता -अमिता गुप्ता


15 मई को हम सब विश्व परिवार दिवस मनाते हैं,
क्या है महत्ता इस परिवार की यह हम आपको बतलाते हैं,
परिवार है एकता के सूत्र की माला,जिसमें हर सदस्य समाया है,
जीवन की नैया को रंग बिरंगे रंगों से सजाया है,
परिवार है हमारा रक्षा कवच,
जिसने ढाल की तरह हमारा अस्तित्व बचाया है,
जहां मिलता है दादी मां का प्यार,
बाबाजी का दुलार,सब माननीयों का आशीर्वाद,
इन सबकी दुआओं से घर रहता सदा आबाद।

आज इस आधुनिकीकरण के दौर में,
परिवार संयुक्त से एकल हो रहे,
नैतिक मूल्यों के ज्ञान को,
सब रफ्ता -रफ्ता खो रहे,
कहीं द्वेष बढा़,कहीं दंभ बढा़,
रिश्तो में निहित प्यार मिट गया,
घर में ना जाने कब फूट पड़ी,
भाई -भाई में रोष बढा़,
मां-बाप की अवहेलना शुरू हुई,
यह परिवार संकीर्णता में सिमट गया।


संकीर्ण मानसिकता से,
सब जन बाहर निकले,
कदम से कदम मिलाकर,
देश की नींव सुदृढ़ करें,
संयुक्तता की डोर से परिवारों में,
प्यार और सौहार्द का दीप जले,
अमिता आह्वान कर रही,
सब मिल परिवार दिवस की सार्थकता चरितार्थ करें,
अपनी चंद पंक्तियों से हम यही बताते हैं,
15 मई को हम सब विश्व परिवार दिवस मनाते हैं।।


—-✍️अमिता गुप्ता

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.

13 Comments
  1. Ankit says

    Wonderful poem, you have such a powerful way with words. Keep it up.
    Thank you for sharing…

  2. Amita says

    आप सभी के द्वारा कविता के दर्शन एवं उत्साह वर्धक समीक्षा हेतु आप सभी को धन्यवाद,
    आप सभी को विश्व परिवार दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

  3. Arpit says

    बहुत सुंदर अभिव्यक्ति

  4. Ayush Gupta says

    Very nice 👍👍

  5. Ayush Gupta says

    Fabulous

  6. Pranjali says

    बड़ी ही सुन्दर कविता!!👌🏻👌🏻

  7. Richa says

    परिवार है हमारा रक्षा कवच, जिसने ढाल की तरह हमारा अस्तित्व बचाया है…..👌👌

  8. Garima says

    Amazing poem 👍👍

  9. Ankita says

    संयुक्तता की डोर से परिवारों में,
    प्यार और सौहार्द का दीप जले……..
    सुंदर रचना

  10. Ekta Gupta says

    संयुक्तता की डोर से परिवारों के बीच प्यार और सौहार्द का दीप जले,
    विश्व परिवार दिवस पर रचित सुंदर रखना।।

  11. Susheel Kumar says

    बहुत ही सुन्दर कविता

  12. Umam says

    👏🏻👏🏻♥🔥

  13. Umam says

    👏🏻👏🏻