हाइकु (संयुक्त राष्ट्र दिवस )- मनीभाई नवरत्न( haiku for union nation)

संयुक्त राष्ट्र दिवस 

मानवाधिकार
जब जग ने जाना
राष्ट्र संयुक्त। 
वैश्विक ताप
संकट में है राष्ट्र
सुधरो आप। 
विश्व की शांति
धरा हो सुरक्षित
आतंक मिटा। 
अस्त्र की होड़
विकास या विनाश
अंधी ये दौड़। 
भारत आया
रंग भेद खिलाफ
संसार जागा। 
चुनौती देता
पर्यावरण रक्षा
हे राष्ट्र!जुड़ो। 

?*मनीभाई नवरत्न छत्तीसगढ़*

(Visited 3 times, 1 visits today)

मनीभाई नवरत्न

छत्तीसगढ़ प्रदेश के महासमुंद जिले के अंतर्गत बसना क्षेत्र फुलझर राज अंचल में भौंरादादर नाम का एक छोटा सा गाँव है जहाँ पर 28 अक्टूबर 1986 को मनीलाल पटेल जी का जन्म हुआ। दो भाईयों में आप सबसे छोटे हैं । आपके पिता का नाम श्री नित्यानंद पटेल जो कि संगीत के शौकीन हैं, उसका असर आपके जीवन पर पड़ा । आप कक्षा दसवीं से गीत लिखना शुरू किये । माँ का नाम श्रीमती द्रोपदी पटेल है । बड़े भाई का नाम छबिलाल पटेल है। आपकी प्रारम्भिक शिक्षा ग्राम में ही हुई। उच्च शिक्षा निकटस्थ ग्राम लंबर से पूर्ण किया। महासमुंद में डी एड करने के बाद आप सतत शिक्षा कार्य से जुड़े हुए हैं। आपका विवाह 25 वर्ष में श्रीमती मीना पटेल से हुआ । आपके दो संतान हैं। पुत्री का नाम जानसी और पुत्र का नाम जीवंश पटेल है। संपादक कविता बहार बसना, महासमुंद, छत्तीसगढ़

This Post Has One Comment

  1. Shishir

    सार्थक एवं सारगर्भित …संदेशपरक रचना

Comments are closed.