ममतामयी माँ पर कविता

ममतामयी माँ पर कविता

meri maa
meri maa

माँ तुमनें जन्म दिया,
तुम जीवनदायिनी हो।
प्यार मिला भी तुमसे,
तुम ममतामयी हो।।

तुमसे कोई और प्यारा नहीं माँ,
तुम पूरी दुनिया हो।
माँ तुमनें जन्म दिया,
तुम जीवनदायिनी हो।।

तुम त्यागमूर्ति,
जीवन में खुशियाँ देती हो।
माँ तुमनें जन्म दिया,
तुम जीवनदायिनी हो।।

संपूर्ण सृष्टि का बोध कराती हो।
संतान पालन के लिए,
दुख का सामना करती हो।।

माँ की गोद,
ममता,आँचल की छाँव है।
प्रेम विराटता दिखाता,
माँ की संसार हैं।।

माँ की ममता,
नहीं है कोई मोल।
विधाता से कम नहीं,
हर बातें हैं अनमोल।।

चलना सीखाकर,
मंजिल दिखाती हो।
लोरी गाकर,
प्यार से सुलाती हो।।

जीवन के हरपल,
साथ देकर कर्तव्य निभाती हो।
सर्वस्व न्यौछावर कर,
संतान खुशी में साथ देती हो।।

प्रेमचन्द साव”प्रेम”
बसना,जिला:-महासमुंद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page